ads

दुनिया का सबसे अमीर देश का प्रत्येक नागरिक है 53 लाख रुपए का कर्जदार

वाशिंगटन। कहते हैं जो जितना अमीर होता है, उस पर कर्ज भी उतना ही ज्यादा होता है। इस बात के कई उदाहरण हम चुनाव में लडऩे वाले कैंडीडेट्स के चुनावी एफिडेविट में भी देख चुके हैं। वहीं देश और दुनिया के अमीरों का हाल देख लीजिए। उनकी एनुअल रिपोर्ट में साफ पता चल जाता है। अब अगर किसी देख के कर्ज पर बात करें तो उस पर भी कुछ ऐसा ही लागू होता है। दुनिया की सबसे बड़ी इकोनॉमी या सबसे अमीर देश अमरीका भी कर्जदार है। उस कर्ज को अगर अमरीका के प्रत्येक नागरिक में बराबर बांट दिया जाए तो भारतीय रुपयों के अनुसार 53 लाख रुपए का कर्जदार होगा। आइए आपको भी बताते हैं कि अमरीका पर कितना कर्ज है और आने वाले दिनों में कितना बढ़ सकता है।

यह भी पढ़ेंः- सोना खरीदने का यही है सही समय, दो महीनों में 4500 रुपए सस्ता हुआ सोना

अमरीका पर कितना कर्ज
दुनिया की सबसे बड़ी इकोनॉमी अमरीका पर 20 सालों में तेजी के साथ कर्ज बढ़ गया है। आंकड़ों की मानें तो अमरीका पर कुल कर्ज 29 हजार अरब डॉलर का कर्ज पहुंचने जा रहा है। वर्ष 2020 में अमेरिका का कुल राष्ट्रीय कर्ज भार 23400 अरब डॉलर था। इसका मतलब प्रत्येक अमरीकी पर औसतन 72309 डॉलर का ऋण था। अमरीकी सांसद एलेक्स मूनी के अनुसार अमरीका का कर्ज बढ़कर 29000 अरब डॉलर तक पहुंचने जा रहा है। यानी प्रत्येक व्यक्ति पर कर्ज का भार और अधिक बढ़ रहा है।

यह भी पढ़ेंः- फरवरी में करीब 5 रुपए तक बढ़े पेट्रोल और डीजल की कीमत, जानिए कितने हो गए हैं दाम

भारत और चीन का कितना बकाया
अमरीकी प्रतिनिधि सभा में बाइडेन सरकार के करीब दो हजार अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज का विरोध किया गया है। वेस्ट वर्जीनिया के सांसद मूनी के अनुसार चीन के साथ वैश्विक स्तर पर हमारी प्रतिस्पर्धा है। उनका हमारे ऊपर 1000 अरब डॉलर से अधिक का कर्ज है। वहीं बात जापान करें तो 1000 अरब डॉलर से अधिक के बकाएदार हैं। इसके अलावा ब्राजील का 258 अरब डॉलर और भारत का 216 अरब डॉलर रुपए का कर्ज अमरीका को चुकाना है। इस फेहरिस्त में काफी देशों के नाम शामिल है।

यह भी पढ़ेंः- टेक्नीकल फॉल्ट के बाद एनएसई का आया बड़ा बयान, टेक्नोलॉजी में किया इतना खर्च

इस राष्ट्रपति के काल में बढ़ा कर्ज
आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2000 में अमरीका पर 5600 अरब डॉलर का कर्ज था। जो अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के काल में दोगुना बढ़ गया। अमरीका के मौजूदा राष्ट्रपति जो बाइडेन ने जनवरी में 1900 अरब डॉलर के कोविड19 राहत पैकेज की घोषणा की ताकि इस महामारी के चलते अर्थव्यवस्था पर आए संकट का मुकाबला किया जा सके। मूनी के अनुसार ओबामा के 8 साल में कर्ज को दोगुना कर दिया। कर्ज और जीडीपी का अनुपात काबू से बाहर हो गया है।



Source दुनिया का सबसे अमीर देश का प्रत्येक नागरिक है 53 लाख रुपए का कर्जदार
https://ift.tt/3aYCAa4

Post a Comment

0 Comments