ads

आठ साल में भारत में पौने चार दिन में ही खत्म हो गए 39 में से 23 टेस्ट मैच

नई दिल्ली। भारत करीब 550 टेस्ट मैच खेल चुका है। जिसमें से 200 से ज्यादा मैच ड्रॉ खेलें है। जिनमें से अधिकतर मैच भारत ने अपने होम ग्राउंड पर ही ड्रॉ मैच खेले हैं। वहीं बात बीते एक दशक की करें तो इन आंकड़ों में काफी तब्दीली देखने को मिली है। भारत में 2013 से अब तक खेले गए कुल टेस्ट मैचों में 90 फीसदी मैचों के सिर्फ नतीजे ही नहीं आए, बल्कि पूरे चार दिन भी नहीं चले। खास बात तो ये है कि ड्रॉ मैचों की संख्या भी काफी कम रही। 10 से ज्यादा मैच 3 दिन या उससे पहले ही खत्म हो गए। वहीं 23 टेस्ट मैच 4 दिन से पहले ही खत्म हो गए। आइए आपको भी बताते हैं कि इंडियन कंडीशंस में टेस्ट मैच का मिजाज कैसे बदला हुआ दिखाई दिया है।

2013 से अब तक खेले 39 टेस्ट मैच
2013 से अब तक भारत जहां भी टेस्ट मैच खेला वो काफी आक्रामक खेला। यह वो दौर था जब महेंद्र सिंह धोनी अपन कप्तानी के उतार पर थे। वहीं विराट कोहली का बल्ला गरज रहा था। ऐसे में 2013 में जब वेस्टइंडीज की टीम भारत दौरे पर आई और भारत ने 6 दिन में ही टेस्ट सीरीज अपने नाम कर ली। तब से अब तक भारतीय टीम ने अपने होम ग्राउंड पर कई कीर्तीमान अपने नाम किए। 2013 से अब तक भारतीय टीम ने 39 मैच अपने होम ग्राउंड पर खेले हैं। जिनमें 33 में उसे जीत मिली है। 5 मैच ड्रॉ हुए हैं। एक मैच हार हैं।

यह भी पढ़ेंः- अहमदाबाद टेस्ट: कोहली, पुजारा ने किया निराश, अजिंक्य भी आउट, मैच में लौटा इंग्लैंड

23 मैच चार दिन भी नहीं चले
आंकड़ों पर गौर करें तो 39 में से 23 मैच ऐसे रहे जो पौने चार दिन भी नहीं चले। यानी चौथे दिन में तो गए लेेकिन बीच में ही खत्म हो गए। अब आप अंदाजा लगा सकते हैं कि भारतीय टीम ने अपनी मानसिकता में कितना बदलाव किया है। उन्होंने प्रत्येक मैच ऐसे खेला है, जिससे मैच का नतीजा सामने आए। टेस्ट मैच के प्रति लोगों में रोमांच पैदा हो। आंकड़ों से साफ पता चलता है कि भारतीय टेस्ट क्रिकेट में लगातार रोमांच बढ़ा है। जिसमें भारत को सफलता भी मिली है।

यह भी पढ़ेंः- अहमदाबाद टेस्ट: दूसरे दिन भारतीय बल्लेबाजों पर रहेगी नजर, चौंका सकते हैं इंग्लैंड के स्पिनर्स

12 मैच 2 से 3 तक ही चले
वहीं इन 23 मैचों में से 12 मैच 2 से 3 तीन दिन के अंदर खत्म हो गए। आंकड़ों के अनुसार 11 मैच ऐसे रहे कि जो पौने चार दिनों में खत्म हो गया। वहीं दूसरी ओर 16 मैच ऐसे रहे जो 4 से 5 दिन में ही खत्म हुए हैं। जिनमें 5 मैच ऐसे रहे जो पूरी तरह से ड्रॉ गया। जानकारों की मानें तो बीते आठ साल में भारतीय क्रिकेट टीम के खेल में काफी बदलाव देखने को मिला है। अटैकिंग बॉलिंग और बैटिंग देखने को मिली है। इस दौरान भारत ने अपनी पिचों को स्पिन के लिए तैयार किया है। वैसे कुछ मैचों में पिच पेस अटैक को भी ध्शन में रखकर बनाई गई हैै।

हाल ही में खत्म हुआ था दो दिन में मैच
भारत इंग्लैंड सीरीज का तीसरा डे नाइट पिंक बॉल टेस्ट मैच भारत दो दिन से पहले ही खत्म कर दिया था। जिसमें 30 विकेट गिरे और 28 स्पिनर्स ने अपने नाम किए थे। यह क्रिकेट हिस्ट्री का 7 वां सबसे छोटा मैच खेला गया। वहीं सेकंड वल्र्ड वॉर के बाद ओवर्स के लिहाज से सबसे छोटा मैच भी था। भारत ने यह टेस्ट मैच 10 विकेट से अपने नाम कर लिया था।



Source आठ साल में भारत में पौने चार दिन में ही खत्म हो गए 39 में से 23 टेस्ट मैच
https://ift.tt/3uZ8ZVI

Post a Comment

0 Comments