ads

बुमराह जैसे अनऑर्थोडॉक्स एक्शन वाले गेंदबाज होते हैं ज्यादा चोटिल : हेडली

 

नई दिल्ली। न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर रिचर्ड हेडली (Richard Hadlee) ने कहा है कि अपने अनऑर्थोडॉक्स एक्शन के कारण भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) के चोटिल होने की संभावना ज्यादा रहती है। हेडली ने हालांकि साथ ही बुमराह की तकनीक की तारीफ भी की।

यह भी पढ़ें— IPL 2021: पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने आईपीएल में दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ियों के खेलने पर उठाए सवाल

बुमराह की तकनीक शानदार
हेडली ने आईसीसी को दिए एक साक्षात्कार में कहा,‘बुमराह का गेंदबाजी अनऑर्थोडॉक्स है क्योंकि उनका रनअप भी नहीं है। उनका तकनीक काफी शानदार है और उन्होंने इसे प्रभावी तरीके से साबित भी किया है। वह एक ऐसे गेंदबाज हैं, जो गेंद को रिलीज करते समय अपनी शक्ति और गति का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं।’

'लंबे समय तक मैदान नहीं टिक पाएंगे'
खुद एक तेज गेंदबाज रह चुके हेडली ने कहा कि बुमराह कितने लंबे समय तक क्रिकेट के मैदान पर टिक पाएंगे, यह कहना मुश्किल है। उन्होंने कहा, ‘बुमराह क्रिकेट में कितने लंबे समय तक टिक पाएंगे, यह कहना मुश्किल है। वह अपने एक्शन के कारण अधिक चोटिल हो सकते हैं।’

'गंभीर साबित हो सकती है चोट'
पूर्व आलराउंडर ने कहा कि बुमराह की चोट उनके कॅरियर के लिए खतरा साबित हो सकती है। उन्होंने कहा, ‘उनकी कुछ चोटें काफी गंभीर साबित हो सकती है क्योंकि वह अपने शरीर पर काफी तनाव और दबाव डालते हैं। मैं उम्मीद करता हूं कि चोट के चलते उनका कॅरियर खत्म नहीं होगा क्योंकि उन्हें गेंदबाजी करते हुए देखना काफी अच्छा लगता है। वह बल्लेबाजों को अपनी गति, उछाल, हवा और पिच से गेंद को मूव कराकर बल्लेबाजों के लिए परेशानी खड़ा करते हैं।’

यह भी पढ़ें— मोहम्मद आसिफ ने शोएब अख्तर को 2007 में हुए झगड़े पर चुप रहने की दी सलाह

बुमराह जैसे गेंदबाजों को कोचिंग देना आसान नहीं
69 साल के हेडली ने आगे कहा, ‘ऐसे तकनीक वाले गेंदबाजों को कोचिंग देना मुश्किल होगा। मुझे लगता है कि कोई भी कोच ऐसा करने से बचेगा क्योंकि इससे गेंदबाज अधिक चोटिल हो सकते हैं। हालांकि मुझे लगता है कि कुछ युवा उनकी नकल करने की कोशिश कर सकते हैं।’



Source बुमराह जैसे अनऑर्थोडॉक्स एक्शन वाले गेंदबाज होते हैं ज्यादा चोटिल : हेडली
https://ift.tt/3ffqtrb

Post a Comment

0 Comments