ads

इसलिए डायटिंग के बाद भी नहीं घटता वजन

अधिकतर लोग मोटापे की समस्या को केवल खाने से जोडकऱ देखते हैं। इसलिए वह डाइट कम कर वजन घटाना चाहते हैं। वहीं कुछ लोग डाइट कम करने के साथ व्यायाम भी बढ़ा देते हैं। इससे फैट बर्न की जगह मसल्स को नुकसान होने लगता है। जल्दी थकान, कमजोरी होती है। फैट बर्न नहीं होने से निराश होकर वजन कम करने का प्रयास बंद कर देते हैं।
कम खाने से नुकसान
जब डाइट कम लेते हैं तो इससे शरीर का मेटाबोलिज्म धीमा हो जाता है। शरीर फैट बर्न करना बंद कर देता है। इससे मोटापा नहीं कम होता है। यही वजह है कि बहुत कम खाने वाले लोगों का भी वजन नहीं घटता है।
दिनभर में 6-7 बार खाएं
दिन में 6-7 बार संतुलित आहार लें। इसमें तीन मील और तीन नाश्ता यानी स्नैक्स होना चाहिए। स्नैक्स में मौसमी फल, पोहा, अंकुरित अनाज, भुने चने आदि लें। थोड़ा-थोड़ा खाने से शरीर का मेटाबोलिज्म सही रहता है। फैट भी बर्न होता है।
एक्सरसाइज बढ़ाने से दिक्कत
डाइट ज्यादा कम करने और एक्सरसाइज अधिक करने से शरीर में प्रोटीन कम होने लगता है। मसल्स के नुकसान से इंजरी की आशंका बढ़ जाती है। जो लोग बार-बार आहार में कुछ लेते रहे हैं और एक्सरसाइज करते हैं तो उनका वजन तेजी से कम होता है। डाइट में जंक फूड बिल्कुल ही न लें। इसमें भी सबसे अधिक नुकसान ट्रांस फैट से होता है।
दो चम्मच तेल-घी और एक चम्मच मीठा भी लें
वजन कम करने के लिए मीठा और तेल-घी कम मात्रा में लेनी चाहिए। बिल्कुल बंद न करें। बिल्कुल बंद करने से दूसरी समस्याएं शुरू हो सकती हैं। हर वयस्क को रोज करीब एक चम्मच जितना गुड़-खांड या शहद लेना चाहिए। ज्यादा लेने से वजन बढ़ाता है। शरीर के संपूर्ण विकास के लिए दो चम्मच जितनी चिकनाई भी जरूरी है। चिकनाई की कमी से याददाश्त कमजोर होने लगती है।
5 ग्राम नमक रोज खाएं
वजन कम करने के लिए कुछ लोग नमक की मात्रा कम कर देते हैं, लेकिन रोज 5 ग्राम की मात्रा में नमक स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है। इससे ज्यादा न खाएं। इसमें समुद्री या सेंधा कोई भी नमक खा सकते हैं। वजन कम कर रहे हैं तो ऊपर से नमक बिल्कुल न लें।



Source इसलिए डायटिंग के बाद भी नहीं घटता वजन
https://ift.tt/3fErKXJ

Post a Comment

0 Comments