ads

कोच रवि शास्त्री के इन 5 फैसलों ने बदली टीम इंडिया की तस्वीर

रवि शास्त्री जब से टीम इंडिया के हेड कोच बने हैं तब से टीम इंडिया ने क्रिकेट में इंटरनेशनल स्तर पर अच्छा प्रदर्शन किया है। रवि शास्त्री टीम को कोचिंग देने के साथ युवा खिलाड़ियों में आत्मविश्वास भी जगाते हैं। रवि शास्त्री के मार्गदर्शन में टीम इंडिया ने अपनी एक अलग पहचान बनाई है। बतौर हेड कोच रवि शास्त्री ने कई ऐसे फैसले लिए,जिसकी वजह से टीम इंडिया को फायदा हुआ और वे फैसले टीम के हित में रहे। जानते हैं रवि शास्त्री के ऐसे ही 5 फैसलों के बारे में।

वॉशिंगटन सुंदर को चुना ऑस्ट्रेलिया दौरे पर
ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान टीम इंडिया के कई खिलाड़ी चोटिल हो गए थे। इसके बाद चौथे टेस्ट में कुलदीप यादव और वॉशिंगटन सुंदर में से किसी एक को चुनना था। ऐसे में रवि शास्त्री ने कुलदीप यादव की जगह वॉशिंगटन सुंदर को चुना। इतना ही नहीं रवि शास्त्री ने ही वॉशिंगटन सुंदर को बल्लेबाजी करने के लिए प्रेरित किया। रवि शास्त्री, सुंदर से नेट्स पर रोज बल्लेबाजी करने को कहते थे। वहीं ऑस्ट्रेलिया दौरे पर वॉशिंगटन सुंदर को चुनने का फैसला भी सही रहा और उस टेस्ट मैच में वॉशिंगटन सुंदर ने 84 रन बनाए और 3 विकेट भी चकटाए।

बढ़ाया टीम का मनोबल
ऑस्ट्रेलिया दौरे के पहले टेस्ट मैच की दूसरी पारी में टीम इंडिया मात्र 36 रन पर सिमट गई थी। इस शर्मनाक प्रदर्शन के बाद के बाद टीम का मनोबल टूट गया था। वहीं हेड कोच रवि शास्त्री ने खिलाड़ियों का मनोबल बढ़ाया और उनमें जीत की आग भरी। रवि शास्त्री ने खिलाड़ियों से कहा कि इस प्रदर्शन से दुखी होने की जगह इसे एक बैज की तरह पहनें। ऐसा करने से आप अच्छा प्रदर्शन करेंगे। मनोबल बढ़ने के बाद टीम इंडिया ने दूसरा मैच जीता। इतना ही नहीं इसके बाद टीम ने अच्छा प्रदर्शन करते हुए सीरीज पर कब्जा किया।

यह भी पढ़ें— पाकिस्तान टीम में आजम खान के सलेक्शन पर फैंस नाराज, कहा- पिता की वजह से हुआ

ravi_shastri2.png

खराब वक्त में ऋषभ पंत का साथ दिया
ऋषभ पंत आज टीम इंडिया के स्टार प्लेयर हैं, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब ऋषभ पंत को टीम से बाहर निकालने की मांग की जा रही थी। वर्ष 2019 में ऋषभ पंत का प्रदर्शन खराब रहा और उन्हें टीम से बाहर करने की मांग होने लगी। उस वक्तरवि शास्त्री ने पंत पर भरोसा जताया और उन्हें टीम में रहने को कहा। इसके बाद पंत ने खुद को साबित किया।

मोहम्मद सिराज का आत्मविश्वास जगाया
पिता की मौत होने के बाद मोहम्मद सिराज पूरी तरह से टूट गए थे। ऐसे में वह रवि शास्त्री के पास गए। रवि शास्त्री ने मोहम्मद सिराज के खोए हुए आत्मविश्वास को जगाया। हाल ही एक इंटरव्यू में मोहम्मद सिराज ने भी इस बारे में खुलासा किया था। खोया हुआ आत्मविश्वास जागने के बाद सिराज ने शानदार प्रदर्शन किया। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर मोहम्मद सिराज ने शानदार गेंदबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के पसीने छुड़ा दिए थे।

यह भी पढ़ें— ईसीबी पर नस्लवाद के आरोप लगाते हुए पूर्व अंपायर जॉन होल्डर ने कहा-हमें चुप कराना चाहते हैं...

कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की जोड़ी को मैदान पर उतारा
वर्ष 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी में हार का सामना करने के बाद रवि शास्त्री की सिफारिश परद कुलदीप यादव और युजवेन्द्र चहल की जोड़ी को वनडे और टी20 फॉर्मेट में मैदान पर उतारा। दोनों गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया और टीम ने वेस्टइंडीज, श्रीलंका, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और साउथ अफ्रीका में वनडे सीरीज जीती। इन सभी दौरों पर मिली जीत में चहल-कुलदीप की फिरकी का बड़ा हाथ था।



Source कोच रवि शास्त्री के इन 5 फैसलों ने बदली टीम इंडिया की तस्वीर
https://ift.tt/3uX37uU

Post a Comment

0 Comments